अबकी बार गेगासो गंगा घाट की ये चीजें होगी प्रमुख

30

सांस्कृतिक कार्यक्रम और हरियाणा के पहलवानों का रात्रि दंगल , फूलों की होली ,बढ़ाएगा गेगासो गंगा घाट का ऐतिहासिक महत्व

रायबरेली। (क्षेत्र)-कार्तिक पूर्णिमा मेले को लेकर गेगासो गंगा घाट और डलमऊ गंगा घाट में जबरदस्त कार्यक्रम जहां डलमऊ घाट में जिला प्रशासन और सरकार के सहयोग से कार्यक्रम और व्यवस्थाएं की जा रही है। वही गेगासो गंगा घाट पर लाखों श्रद्धालु गंगा स्नान करते हैं लेकिन सरकार की तरफ से इस घाट को नजरअंदाज किया गया है। सरकार की तरफ से यहां के लिए कोई बजट नहीं दिया गया है। वही दीपावली के दिन से लगातार महालक्ष्मी पूजन कर रहे उमेश चैतन्य ने पूरे घाट को सजाने संवारने का जिम्मा लिया है और कई कार्यक्रम आयोजन होने हैं। आज रात भव्य कार्यक्रमों का आयोजन होगा जो कि आज शाम 5:00 बजे से कार्यक्रम शुरू हो जाएंगे । सबसे पहले माता संकटा का भव्य पूजन और पांच कुंडी हवन जिसमें हजारों लोग शामिल होंगे। इसके साथ ही माता के प्रांगण में 51 हजार दीपो से माता का प्रांगण सजाया जाएगा। इसके अलावा मां गंगा में सवा लाख दीप प्रज्वलित किए जाएंगे, इसके लिए बाकायदा दो दर्जन नामों को सजाया जाएगा। इसके साथ ही आर्केस्ट्रा के माध्यम से भक्ति गानों का कार्यक्रम रखा गया है और सबसे रोचक और दिलचस्प कार्यक्रम जोकि हरियाणा के पहलवान रात्रि दंगल करेंगे जिसको देखने के लिए अभी से दूरदराज से लोग पहुंच रहे हैं। पूरे गेगासो गंगा घाट को लेजर लाइट से सजाया गया है। ऐसे में गेगासो गंगा घाट की तरफ श्रद्धालुओं का आना शुरू हो गया है इसके साथ ही 1 घंटे की फूलों की होली भी खेली जाएगी जो कि भक्ति गानों के साथ होगी। अब एक तरफ सरकार की व्यवस्थाएं डलमऊ गंगा घाट पर होंगी तो दूसरी तरफ गेगासो गंगा घाट पर यज्ञ सम्राट उमेश चैतन्य महाराज की तरफ से भव्य कार्यक्रम और सभी मंदिरों को सजाने संवारने का जिम्मा लिया गया है । आज शाम 5:00 बजे से रात भर कार्यक्रम होंगे और कल दिन में सभी श्रद्धालु हवन पूजन के साथ कार्तिक पूर्णिमा का स्नान करेंगे ।

अनुज मौर्य/संदीप फ़िज़ा रिपोर्ट