अब बसपा में शामिल हुई डॉ. भारती पांडेय

916

रायबरेली। भाजपा से अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत कर राष्ट्रीय लोकदल से रायबरेली सदर विधान सभा का चुनाव लड़ चुकी पूर्व कांग्रेसी नेता स्व. राकेश पांडेय की पत्नी डॉ. भारती पांडेय ने बहुजन समाज पार्टी का दामन थाम लिया है। गुरुवार को लखनऊ में बसपा सुप्रीमो मायावती ने डॉ. भारती पांडेय को पार्टी की सदस्यता दिलाई। जिसकी अधिकारिक घोषणा शनिवार को एक प्रेसवार्ता के माध्यम से की जाएगी। स्वयं भारती पांडेय ने खुद के बसपा में शामिल होने की पुष्टि की और उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में उत्तर प्रदेश को जिस सुशासन की आवश्यकता है वह केवल बसपा सुप्रीमो बहन कुमारी मायावती ही दे सकती हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा की नीतियों से जनता पूरी तरह से त्रस्त हो चुकी है। यूपी की कानून व्यवस्था ध्वस्त है। प्रतिदिन हत्या लूट और बलात्कार की घटनाओं से प्रदेश शर्मसार हो रहा है ऐसे में जनता बहन कुमारी मायावती की तरफ आशा भरी निगाहों से देख रही है। उल्लेखनीय है कि डॉ. भारती पांडेय ने व्यापारी संगठन में शामिल होकर अपनी राजनीतिक पारी का आगाज किया था। इसके बाद वह भाजपा में शामिल हुई, तत्कालीन भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत बाजपेई ने उन्हें पार्टी की सदस्यता दिलाई थी। एक कार्यक्रम के दौरान हुए वाद विवाद के चलते उन्होंने पार्टी छोड़ दी और राष्ट्रीय लोक दल का दामन थाम लिया। भारती पांडेय ने राष्ट्रीय लोक दल से रायबरेली सदर विधान सभा सीट से चुनाव लड़ा था। अपने हक और अधिकारों के लिए संघर्ष कर रही डॉ. भारती पांडेय गीत एक लंबे समय से अपने लिए राजनैतिक दल की तलाश में थी। उन्होंने गुरुवार को लखनऊ में बसपा सुप्रीमो मायावती के समक्ष समाज पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली। बसपा ही क्यों? इस सवाल के जवाब में डॉ भारती पांडे ने कहा कि यह एक अनुशासित पार्टी है और बिना अनुशासन के न तो देश की उन्नति हो सकती है और न प्रदेश की।