आज पहली बार जारी हुई ब्लैक होल की तस्वीर, जानिए इसके बारे में

57

नई दिल्ली: Black Hole की अब तक परिकल्पना ही की गई थी लेकिन आज पहली बार लोग ब्लैक होल की असली तस्वीर (Black Hole Picture) देख पाएंगे. आज दुनिया के छह जगहों पर वैज्ञानिक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर ब्लैक होल (Black Hole) की असली तस्वीर जारी करेंगे. ब्लैक होल की तस्वीर इवेंट हॉरिजन टेलिस्कोप द्वारा ली गई होगी. इवेंट हॉरिजन टेलिस्कोप (Event Horizon Telescope) को दुनिया भर के छह जगहों पर लगाया गया है. इस टेलिस्कोप को खास तौर पर ब्लैक होल की तस्वीर लेने की लिए ही बनाया गया है. बता दें कि ये 6 टेलिस्कोप हवाई, एरिजोना, स्पेन, मेक्सिको, चिली और दक्षिणी ध्रुव में लगाए गए हैं. इन टेलिस्कोप्स को जोड़कर एक बड़ा आभासी टेलिस्कॉप बनाया गया. इन टेलिस्कोप्स से मिले डाटा को सुपरकंप्यूटर में स्टोर किया जाएगा.

यूरोपीय अंतरिक्ष एजेंसी के खगोलविद् और ब्लैक होल के एक विशेषज्ञ पॉल मैक्नमारा ने कहा, ”पिछले 50 वर्ष से अधिक समय से वैज्ञानिकों ने देखा है कि हमारी आकाशगंगा के केंद्र में कुछ बहुत चमकीला है.” उन्होंने बताया कि ब्लैक होल में इतना मजबूत गुरुत्वाकर्षण है कि तारे 20 वर्ष में इसकी परिक्रमा करते हैं. हमारी सौर प्रणाली में आकाशगंगा की परिक्रमा में 23 करोड़ साल लगते हैं.

क्या है ब्लैक होल
ब्लैक होल ऐसी खगोलीय शक्ति है, जिसका गुरुत्वाकर्षण क्षेत्र काफी शक्तिशाली होता है. इसके खिंचाव से कुछ नहीं बच सकता. ब्लैक होल के चारों ओर एक सीमा होती है. उस सीमा को घटना क्षितिज कहा जाता है. उसमें वस्तुएं गिर तो सकती है लेकिन वापस नहीं आ सकती. इसलिए इसे ब्लैक होल कहा जाता है. क्योंकि यह अपने ऊपर पड़ने वाले सारे प्रकाश को अवशोषित कर लेता है. और उसके बदले में कुछ भी परावर्तित नहीं करता है.