चेन स्नेचरों के गिरोह का भंडाफोड़, तीन चेन व 30 मोबाइल बरामद

441

रायबरेली। लालगंज कोतवाली पुलिस तथा सर्विलांस व स्वाट की संयुक्त टीम ने चेन स्नेचिंग व मोबाइल छीनैती करने वाले गिरोह का पर्दाफाश कर तीन अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है। एक मुठभेड़ के दौरान पुलिस से इन सभी अभियुक्तों को गिरफ्तार किया गया है। पकड़े गए अभियुक्तों का लंबा चैड़ा अपराधिक इतिहास है। पुलिस ने अभियुक्तों के पास से 315 बोर का एक देषी तमंचा, एक जिंदा व एक खोखा कारतूस, तीन मोबाइल बरामद हुए हैं। इसके अलावां 30 अन्य विभिन्न कंपनियों के लुटे हुए मोबाइल तथा तीन सोने की चेन भी पुलिस ने बरामद की हैं। पुलिस अधीक्षक सुनील कुमार सिंह ने खुलासा करते हुए बताया कि लालगंज क्षेत्र में चेन स्नेचिंग व मोबाइल छिनैती की घटनाएं को देखते आरोपियों को पकड़ने के सख्त निर्देष दिए थे। जिसमें पुलिस ने लालगंज कोतवाली क्षेत्र के प्रतापपुर निवासी सतनाम यादव पुत्र सुंदर लाल, हिमांशु यादव उर्फ बंटू पुत्र हरिपाल यादव तथा महाखेड़ा निवासी सोनू पुत्र बाबूलाल को गिरफ्तार किया गया है। ओरी का पुरवा थाना लालगंज निवासी अजय मिश्रा पुत्र श्रीचंद्र मिश्रा अभी फरार हैं। एसपी सुनील कुमार सिंह ने बताया कि पकड़े गए लोगों का लंबा चैड़ा आपराधिक इतिहास है। जिनके कब्जे से जहां लूट की सोने की चेन और 30 मोबाइल फोन मिले हैं। घटना के बारे में लालगंज कोतवाल संजय मौर्य ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी की कस्बे के पुराने बस अड्डे पर चार नवयुवक लूटे गए मोबाइल फोन व जेवरात के साथ एकत्र हैं। माल को ठिकाने लगाने व बेचने की योजना बना रहे हैं। उन्होंने बताया कि वह जैसे ही पुराने बस अड्डे पहुंचे। युवकों ने देखा तो उनमें सतनाम ने ललकार कर कहा गोली मारो पुलिस वाले हैं। एक नवयुवक ने पुलिस के ऊपर फायर झोंक दिया। पुलिस ने अपना बचाव करते हुए घेराबंदी कर तीनों को पकड़ लिया है। एसपी सुनील कुमार सिंह ने लालगंज पुलिस और सर्विलांस टीम को शाबाशी दी है।