डाक्टर का दो टूक : हम लिखेंगे बाहर की दवा

267

डलमऊ (रायबरेली)। बाहर की दवा लिखने पर ही मरीज ठीक होता है। इसलिए बाहर की दवा लिखी जाती है। जब तक हम सीएचसी पर तैनात रहेंगे बाहर के मंहगे से महंगे इंजेक्शन व दवा लिखते रहेंगे। हम दवा लिखते है इसके बारे में सीएचसी अधीक्षक से लेकर सीएमओ को भी पता है। यह कबूलनामा स्वयं सीएचसी के डाक्टर प्रदीप कुमार का है। जिस पर गरीब मरीज के साथ आये तीमारदार चिकित्सक पर आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री मंत्री को ऑनलाइन शिकायत भी की है। आपको बता दें कि यह कोई पहली बार तीमारदारों के साथ नहीं हुआ है। सीएचसी अधीक्षक सब कुछ जानते हुये भी कार्यवाही से कतराते हैं। कुछ कर्मचारियों ने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि चिकित्सक प्रदीप कुमार गुप्ता का तबादला महाराजगंज हो गया था लेकिन साहब तबादला रुकवाने में कामयाब रहे। सीएचसी अधीक्षक विनोद कुमार चौहान का कहना है कि अगर आदत में सुधार नहीं लाते हैं तो कुछ अधिकारियों से शिकायत कर कार्रवाई की जाएगी।