पॉलीथिन के नाम पर हो रहे उत्पीडऩ की शिकायत

269

रायबरेली। व्यापारियों के कंछल गुट के प्रतिनिधि मण्डल ने जिलाध्यक्ष बसन्त सिंह बग्गा के नेतृत्व में डीएम को ज्ञापन देकर पॉलीथिन के नाम पर व्यापारियों पर हो रहे उत्पीडऩ से अवगत कराया। जिलाध्यक्ष ने कहा कि पॉलीथिन के प्रयोग बन्द करने के लिए माननीय सर्वोच्च न्यायालय के आदेश एवं उप्र सरकार के आदेश का सभी व्यापारी स्वागत करते हैं। पॉलीथिन के प्रयोग बन्द करने के लिए व्यापारी पूरा सहयोग करने के लिए कटिबद्ध हैं। व्यापारियों के पास पहले से रखे हुए डिस्पोजल सामग्री के स्टाक को वापस किया जा रहा है। प्रान्तीय संगठन मंत्री मुकेश रस्तोगी ने कहा कि 15 अगस्त तक डिस्पोजल आइटम के लिए सर्वोच्च न्यायालय द्वारा जो समय दिया गया है, जिले का व्यापारी 15 अगस्त के पहले डिस्पोजल आइटम खत्म कर देगा।  इसके बावजूद नगर पालिका एवं अन्य प्रशासनिक एवं पुलिस विभाग के कर्मचारियों द्वारा अनावश्यक रूप से व्यापारियों का उत्पीडऩ एवं अपमानित किया जा रहा है। सदर महामंत्री सुरेश यादव ने कहा कि डिस्पोजल का जो स्टाक व्यापारी के पास है, उसे जबरदस्ती उठाकर ले जाना कहां का न्याय है। ज्ञापन देने वालों में नगर अध्यक्ष मनोज गुप्ता, नगर महामंत्री अतुल श्रीवास्तव सत्यांशु दुबे, अनुज त्रिवेदी, विजय सोनकर, नरेश जायसवाल, जितेन्द्र्र मौर्या, शाकिब कुरैशी, अश्वनी, आकाश मौर्या, बन्नाराम अठवानी, बाबू भाई आदि लोग रहे।