यूपी पुलिस की मन की बात समझने के लिए ट्रेनिंग शुरू, 12 दिनों तक करना होगा कोर्स

25

राज्य के सभी जिलों में पुलिसवालों का 12 दिनों का कोर्स होगा. डीजीपी ने कहा है कि अनुशासन तोड़ने वाले सिपाहियों पर कड़ी कार्रवाई होगी. आज से लखनऊ के पुलिस लाईन में पुलिस वालों का ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू हुआ है.

लखनऊ: विवेक तिवारी हत्याकांड के बाद आरोपी प्रशांत के समर्थन में आए पुलिस वालों की वजह से यूपी पुलिस की काफी किरकिरी हुई है. इसको ध्यान में रखते हुए आज से यूपी में पुलिस वालों के मन की बात समझने के लिए ट्रेनिंग शुरू हो गयी है. राज्य के सभी जिलों में पुलिसवालों का 12 दिनों का कोर्स होगा. डीजीपी ने कहा अनुशासन तोड़ने वाले सिपाहियों पर कड़ी कार्रवाई होगी. आज से लखनऊ के पुलिस लाईन में पुलिस वालों का ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू हुआ है.

आज लखनऊ में खुद राज्य के डीजीपी ओमप्रकाश सिंह ने क्लास का उदघाटन किया. ट्रेनिंग शुरू किये जाने से सवाल उठने लगे हैं कि कहीं सरकार पुलिसवालों से डर तो नहीं गयी. इस पर डीजीपी ने कहा नियम और अनुशासन तोड़नेवालों की खैर नहीं है.

बता दें कि 29 सितम्बर को एप्पल कंपनी के एरिया मैनेजर विवेक तिवारी की गोली मार कर ह्त्या कर दी गयी थी. गोली मारने का आरोप कॉन्स्टेबल प्रशांत चौधरी पर लगा है और वह जेल में है. प्रशांत की पत्नी राखी मल्लिक भी सिपाही है. उसने भी पुलिसवालों से अनुशासन बनाये रखने की अपील की है लेकिन 5 अक्टूबर को कई पुलिसवालों ने काली पट्टी बांध कर प्रशांत पर हुई कार्रवाई का विरोध किया. अब फिर से दस अक्टूबर को विरोध करने का एलान सोशल मीडिया में किया जा रहा है.

अब तक छह पुलिसवाले विरोध करने पर निलंबित किये जा चुके है. लखनऊ में तीन थानेदार भी बदले जा चुके हैं. सोशल मीडिया में वायरल हो रहे एक मैसेज पर राज्य भर में अलर्ट जारी कर दिया गया है.