रूस ने चीन के साथ शुरू किया दुनिया का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास, 3 लाख सैनिक कर रहे शक्ति प्रदर्शन

116
Raebareli News | Russia war

36 हजार सैन्य वाहन, 80 जहाज, 1000 एयरक्राफ्ट, हेलिकॉप्टर और ड्रोन मिलिट्री ड्रिल में शामिल

मॉस्को. रूस ने चीनी और मंगोलियन सैनिकों के साथ मंगलवार से दुनिया का सबसे बड़ा युद्धाभ्यास वोस्तोक-2018 शुरू किया। इसमें तीन लाख सैनिक, 36 हजार सैन्य वाहन, 80 जहाज, 1000 एयरक्राफ्ट, हेलिकॉप्टर और ड्रोन शामिल किए गए हैं।
उम्मीद है कि रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी व्लादिवोस्तोक शहर में चल रहे  इकोनॉमिक फोरम के बाद युद्धाभ्यास में हिस्सा लेंगे। वहीं, चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग इकोनॉमिक फोरम में शामिल मुख्य मेहमानों में से एक हैं। रूस के रक्षा मंत्रालय ने बताया कि देश के पूर्वी इलाके में यह युद्धाभ्यास सात दिन तक चलेगा, जिसमें चीन के करीब 3500 सैनिकों ने भी हिस्सा लिया है।

चीन ने कहा, मजबूत हुई रूस से दोस्ती : रक्षा मंत्रालय ने मिलिट्री ड्रिल के दौरान सैन्य वाहनों, एयरक्राफ्ट, हेलिकॉप्टरों की वीडियो फुटेज भी जारी की। पुतिन ने कहा कि राजनीति, सुरक्षा और सैन्य क्षेत्रों में दोनों देश भरोसेमंद संबंध बना रहे हैं। वहीं, जिनपिंग ने कहा कि हमारी दोस्ती लगातार मजबूत हो रही है। रूस ने यह मिलिट्री ड्रिल उस वक्त शुरू की, जब यूक्रेन और सीरिया के विवाद में मॉस्को की दखलंदाजी के बाद तनाव बढ़ा है।