बिना ब्रेक के 160Km दौड़ी टाटा-छपरा एक्‍सप्रेस,बचे यात्री

41

मुजफ्फरपुर । उत्‍तर प्रदेश के रायबरेली में फरक्‍का एक्‍सप्रेस की दुर्घटना में पांच बिहारियों की मौत की चर्चा अभी थमी भी नहीं है कि गुरुवार को हजारों रेल यात्रियों की जान घंटो आफत में पड़ी रही। मामला

समस्तीपुर-हाजीपुर रेलमार्ग पर टाटा-छपरा एक्सप्रेस के बिना ब्रेक के ही 160 किमी तक परिचालन का है। यह सब रेल अधिकारियों की जानकारी में हुआ।

कर्पूरीग्राम स्टेशन पर आई खराबी को ठीक करने की कोशिश की गई थी, लेकिन सफलता नहीं मिलने पर जैसे-तैसे कर ट्रेन को चला दिया गया। आधे घंटे से खड़ी ट्रेन के यात्रियों को ब्रेक में गड़बड़ी और उसी अवस्था में परिचालन की सूचना मिलने पर उनकी सांसें अटकीं रहीं।

एक बोगी के ब्रेक में आइ खराबी

जानकारी के अनुसार समस्तीपुर जंक्शन पर टाटा-छपरा एक्सप्रेस आकर रुकी। वहां से खुलने के बाद कर्पूरीग्राम से पहले स्लीपर की बोगी संख्या तीन के मेटल पाइप फ्रेश व बायपास कपलर टूट गए। इससे एक ब्रेक फेल हो गया। स्टेशन पर लोको पायलट ने सावधानी से ट्रेन रोकी। उसने तत्काल कंट्रोल को सूचना दी।

खराब हालत में ही चला दी ट्रेन

इसके बाद समस्तीपुर मंडल से कर्मियों की टीम पहुंची, लेकिन नए पार्ट्स नहीं होने के कारण कर्मियों ने जैसे-तैसे मरम्‍मत की। इससे बोगी के एक ब्रेक सिस्टम ने काम करना बंद कर दिया। इसी हालत में ट्रेन को जंक्शन के लिए चला दिया गया।

अधिकारियों ने की लापरवाही

जंक्शन पर कर्मियों ने सभी बोगियों की जांच की। बोगी संख्या तीन में अंदर से कपलर टूटा मिला। उसे ठीक करने की कोशिश की गई, लेकिन सफलता नहीं मिली। अंतत: लापरवाही दिखाते हुए अधिकारियों ने ट्रेन को रवाना कर दिया। स्लीपर बोगी में बिना ब्रेक के ही ट्रेन ने हाजीपुर होते छपरा तक करीब 160 किमी तक की दूरी तय की।

अब कर्मियों से हो रही पूछताछ

कर्मियों ने कहा कि एक बोगी का ब्रेक काम नहीं कर रहा था। इधर, सोनपुर मंडल के क्षेत्रीय अधिकारी ने कहा कि मामले में कर्मियों से पूछताछ की जा रही है।