शराब बनाने वाली मिनी फैक्ट्री का पुलिस ने किया भण्डाफोड़

45

डलमऊ (रायबरेली)। पुलिस ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। जरायम का काम कर रहे अपराधियों में खौफ पैदा हो गया है। कोतवाल मणिशंकर तिवारी की अच्छी पुलिसिंग की वजह से अपराध में गिरावट भी आई हुई है। बीती रात मुखबिर की सूचना पर चेकिंग के दौरान डलमऊ पुलिस ने नकली शराब बनाने वाली मिनी फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है।

जानकारी के अनुसार कोतवाली प्रभारी मणिशंकर तिवारी के कुशल नेतृत्व में मुखबिर की सूचना पर चेकिंग अभियान चलाया गया। चेकिंग के दौरान कटघर गांव में शिव ढाबा के समीप एक नव निर्मित भवन में कई ब्राण्डों के नकली शराब बनाकर तैयार किया जा रहा थी। तभी जब एसआई कुशल सिंह, जितेंद्र सिंह, देवी दयाल मौर्य व देवेश दीक्षित ने छापा मारा तो शराब तैयार कर रहे थाना लालगंज निवासी मुदुतपुर निवासी चंदन पासी पुत्र राजाराम पासी व सुकरू पासी पुत्र छोटेलाल कई ब्रांडों के रैपर के साथ शराब तैयार कर रहे थे। दोनों आरोपियों को कोतवाली पुलिस रंगे हाथों पकड़ कर कोतवाली ले आई है। पुलिस ने छापा मारने के दौरान भारी मात्रा में स्प्रिट, नकली रैपर, शीशी व अन्य सामग्री बरामद की है। कोतवाल मणि शंकर तिवारी ने बताया कि शराब बनाने की मिनी फैक्ट्री का भण्डाफोड़ किया गया है। पकड़े गये दोनों आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

नहीं चलने दे रहे हैं दलालों की दादागिरी
कोतवाल मणिशकंर तिवारी बात के धनी है। वह न्यायप्रिय है। किसी गरीब का अहित न हो उसके लिए वह खुद मौके का मुआयना कर जांच पड़ताल करते है। तिवारी जी कहना है कि मैं जब तक कोतवाली में रहूंगा हो सकेगा तो किसी के साथ अन्याय नहीं होने दूंगा। अपराधी अपराध छोड़ दें नही तो उसका परिणाम वह खुद ही झेलेगा। गलत काम मे किसी दलाल की भी नही सुनूंगा।

अनुज मौर्य/मेराज रिपोर्ट