26 घंटे बाद बहाल हुआ रेलवे ट्रैक, दो और लापरवाहों पर गिरी गाज

61

रायबरेली। रायबरेली के हरचंदपुर के पास बुधवार की सुबह हुई ट्रेन दुर्घटना के बाद रेलवे ट्रैक की एक लाइन नंबर तीन को बहाल कर दिया गया है। पूरी तरह से रूट सही होने तक बिना सिग्नल के 10 से 20 किलोमीटर की गति से ट्रेन गुजारी जायेंगी। रेलवे अफसरों के अनुसार गुरूवार सुबह 8ः20 बजे मालगाड़ी गुजारकर लाइन शुरू की गई । उसके बाद नौचंदी एक्सप्रेस 14512 डाउन निकाली गई थोड़ी ही देर में 14204 इंटरसिटी वाराणसी को रवाना किया गया। कुछ ही समय पर पश्चात 14369 त्रिवेणी एक्सप्रेस और फिर 14219 इंटरसिटी एक्सप्रेस को निकाला गया। अभी बाकी दो लाइन देर शाम तक चालू होगी। इस बीच कई ट्रेने बदले हुये मार्गों से चलेंगी। बताते चलें कि रेल प्रशासन ने हरचंदपुर दुर्घटना के मामले में इलेक्ट्रिकल सिग्नल मेंटेनर (ईएसएम) व सिग्नल इंस्पेक्टर (एसआई) को सस्पेंड कर दिया है।
न्यू फरक्का एक्सप्रेस हादसे का असर लखनऊ-प्रतापगढ़ रेलखंड सहित कई रूट की ट्रेनों पर पड़ा। रेलवे ने गंगा गोमती एक्सप्रेस सहित कई ट्रेनें निरस्त कर दीं। कुछ ट्रेनों के रास्ते बदल दिए गए। वाराणसी लखनऊ इंटरसिटी को रायबरेली से लखनऊ के बीच निरस्त कर दिया गया। इसी तरह ट्रेन 14215 इलाहाबाद लखनऊ गंगा गोमती एक्सप्रेस को ऊंचाहार-उन्नाव होकर लखनऊ भेजा गया। लखनऊ इलाहाबाद गंगा गोमती एक्सप्रेस रद हो गई। लखनऊ प्रयाग इंटरसिटी, 14124 कानपुर-प्रतापगढ़ इंटरसिटी को निरस्त कर दिया गया। ट्रेन लखनऊ वाराणसी पैसेंजर, 14308 बरेली-प्रयाग एक्सप्रेस भी रवाना नहीं हो सकी।