अफवाहों से रहे दूर,आपसी भाईचारे से मनाए त्यौहार:डीएम

185

सेंट्रल पीस कमेटी की बैठक सम्पन्न

अति संवेदनशील स्थलों पर रखे कड़ी नजर: पुलिस अधीक्षक

रायबरेली-आगामी लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2024 और आगामी त्यौहारो होलिका दहन,होलिकोत्सव, रमजान,अलविदा जुमा की नमाज, ईद उल फितर,पूर्णिमा गंगा स्नान और अम्बेडकर जयंती के मद्देनजर जिलाधिकारी हर्षिता माथुर ने पुलिस अधीक्षक अभिषेक अग्रवाल के साथ सेन्ट्रल पीस कमेटी की बैठक बचत भवन सभागार में की। जिलाधिकारी ने कहा कि त्यौहारो को आपसी भाईचारे और सौहार्दपूर्ण तरीके से मनाए।

उन्होंने कहा कि रमजान का महीना शरू हो गया है कुछ ही दिनों में होली का भी त्यौहार भी आ जायेगा। इन सभी त्योहारों में किसी भी प्रकार की अशांति न फैलने पाए। मंदिर और मस्जिदो में व्यापक साफ सफाई अभियान चलाया जाए। आने जाने वाले रास्तो को भी ठीक कराया जाए। साथ ही सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा जाए। जिलाधिकारी ने कहा कि चूंकि इसी बीच आदर्श आचार संहिता भी लग सकती है। इस बात का ध्यान रखा जाए कि त्योहारों को राजनीतिक रंग देने का प्रयास ना हो। जो भी माहौल को बिगाड़ने का प्रयास करे उसकी सूचना तुरंत प्रशासन को दे। त्योहारों के समय बजने वाले संगीतो पर भी कड़ी नजर रखी जाए। कोई भी व्यक्ति या समुदाय अभद्र संगीत का प्रयोग करता हुए ना मिले। डीजे बजाने वाले संस्थाओं की सूची तैयार कर ले। कोई भी सार्वजनिक कार्यक्रम करते समय प्रशासन की अनुमति अवश्य ली जाए। उन्होंने ने कहा कि सोशल मीडिया पर कड़ी नजर रखी जाए। किसी भी प्रकार की अफवाह न फैलने पाए। अराजक तत्त्वों पर नजर रखी जाए। अवैध शराब बनाने वालो पर आबकारी विभाग लगातार कार्यवाही करती रहे। स्वास्थ्य विभाग की टीम अपने अपने स्वास्थ्य केंद्रों पर हर समय उपस्थित रहेगी। विद्युत विभाग को निर्देश दिया कि त्यौहारो के बीच अनवरत विद्युत आपूर्ति होती रहे। खाद्य विभाग खाने पीने के सामानों की अभी से सेम्पलिंग करना शुरू कर दे। मिलावटी खाद्य सामग्री बनाने वालों पर कार्रवाई की जाए। साथ ही मीडिया के माध्यम से इसका प्रचार प्रसार भी कराया जाए। जिससे कि लोग मिलावटी खाने-पीने के सामान खरीदते समय सावधानी बरते।
पुलिस अधीक्षक अभिषेक अग्रवाल ने कहा कि सभी लोग शान्ति पूर्वक त्यौहार मनाए। सभी थानों में पुलिस विभाग हर समय मुस्तैद रहे। अति संवेदनशील स्थलों को अभी से चिन्हित कर लिया जाए। त्यौहारो के बीच आचार संहिता का भी पालन करते रहे। उल्लंघन करने वालो पर गंभीर धाराओं में कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी क्षेत्राधिकारी अपने अपने क्षेत्रों में सुरक्षा का पूरा ध्यान रखे। पिछले 10 वर्ष के आपराधिक मामले वाले व्यक्तियों की जांच पड़ताल कर ले। जिससे की किसी भी प्रकार की अनहोनी को रोका जा सके।
इस अवसर पर शांति समिति के सदस्यो के अतिरिक्त जनपद के सभी वरिष्ठ नागरिक, सभी धर्मो के धर्मावलम्बी और जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

अनुज मौर्य/विक्रम सिंह रिपोर्ट

Previous articleआबकारी विभाग ने 357 लीटर अवैध कच्ची शराब पकड़ी,13 लोगों पर मुकदमा दर्ज
Next articleविद्यार्थियों को दी गई मतदाता जागरूकता की जानकारी