एम्स अस्पताल में तैनात सुरक्षा कर्मियों पर दर्ज हुई एफआईआर, मरीज के साथ मारपीट का हुआ था वीडियो वायरल

29

रायबरेली : रायबरेली एम्स में काली वर्दी में तैनात सुरक्षा कर्मियों की काली करतूत के वायरल वीडियो पर एम्स प्रशासन द्वारा कार्रवाई की गई है। 4 सुरक्षा कर्मियों पर एफआईआर दर्ज करते हुए बर्खास्त करने की कार्रवाई की गई है।

इससे पहले घटना से दुःखी हुए भाजपा किसान नेता रमेश बहादुर सिंह एम्स परिसर के बाहर धरने पर बैठ गए। धरने पर बैठते ही एम्स प्रशासन में अफरा तफरी मच गई। मौके पर पहुंची भदोखर पुलिस ने किसान नेता को समझाते हुए उनकी मांगों को सुना और साथ ही सुरक्षाकर्मी को खिलाफ दर्ज मुकदमे की कापी भी सौंप दी। इसके बाद किसान नेता ने कार्रवाही पर सन्तुष्टि जाहिर करते हुए धरना समाप्त कर दिया।

आपको बता दें कि 2 अप्रैल को एम्स में एक वीडियो वायरल हुआ था जिसमें कुछ सुरक्षा कर्मी एक व्यक्ति को पीट रहे थे। वीडियो वायरल होने के बाद एवं प्रशासन की तरफ से मामले में संज्ञान लिया गया। पुलिस ने शिकायतकर्ता की तहरीर पर चार लोगों रामस्वरूप सिंह,धीरेंद्र कुमार सिंह, विजय कुमार मौर्य, योगेंद्र बहादुर के खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मुकदमा दर्ज भी किया गया है। वहीं एम्स प्रशासन की तरफ से चारों सुरक्षा कर्मियों को निलंबित भी कर दिया गया है।

विक्रम सिंह रिपोर्ट

Previous articleअवैध वसूली का अड्डा बना नगर पालिका परिषद का टेंपो स्टैंड
Next articleकॉपी किताब बेचने वालों के खुलेआम लूट ,बिना जीएसटी बिल व मनमाने तरीके से बेच रहे हैं किताब कॉपी