गुरु गृह गये पढन रघुराई… अल्प काल विद्या सब आई…

34

तिलोई (अमेठी)।-क्षेत्र मे गुरुवार को दोपहर पांचवे दिवस मे चल रही विशाल श्री राम कथा के प्रसँग मे श्री दीपक जी महाराज जी ने बताया की कैलाश पर्बत पर बैठे भगवान शिव ने माँ भवानी को बताया की ये भवानी मेरे प्रभु की लीला तो देखो जाकी सहज स्वास श्रुति चारी, सो प्रभु पढ़े यह कौतुक भारी, उन्होंने ने बताया की जिनके एक स्वास लेने से वेद और शास्त्र प्रगट हो जाते है ओ भी गुरुकुल को पढ़ने के लिए जाते है और सारी विद्याओ को प्राप्त करते है , फिर कुछ दिनों के बाद अयोध्या मे विस्वामित्र मुनि जी आये और मुनि जी के साथ सुंदर सुंदर कथाओ को सुनते हैं फिर महाराज जनक की पत्रिका पा कर राम और लखन मुनि जी साथ चल देते है मार्ग मे अहिल्या का उद्धार करते है फिर जाकर जनकपुर के दर्शन करते है उसके बाद जनक जी के दरवार मे घमंडी राजाओं का मान मर्दन करके महाराज जनक के प्रतिज्ञा को पूरी करके सीता जी से नाता जोड़ते हैं इस मौके पर हजारो भक्तो ने कथा का आनंद लिया ।इस अवसर पर ग्राम प्रधान संतोष कुमार सिंह ने श्रोताओं का आभार व्यक्त करते हुए आगामी 6 जनवरी को विशाल भंडारे में सम्मिलित होने का आग्रह भी किया इस अवसर पर हजारों की संख्या में महिला पुरुष कथा पंडाल में उपस्थित रहे ।

मोजीम खान रिपोर्ट

Previous articleगरीबो की मदद करना ही सच्चा धर्म- मारूफ
Next articleतेज रफ्तार ने ले ली मोटरसाइकिल सवारो की जान