तो अब सलोन तहसील में चल रहा है सांठ गांठ से सरकारी जमीनों का बैनामा

219

सलोन रायबरेली- तहसील में निबंधन अधिकारियों और स्थानीय प्रशासन की सांठ गांठ से सरकारी जमीनों का बैनामा किया जा रहा है।राजस्व संहिता के नियमों को दरकिनार कर लोग अधिकारियों से सांठ गांठ करके सरकारी जमीनों का क्रय-विक्रय कर रहे है।हाल ही में तहसील में हुए एक जमीन के बैनामे में सरकारी बेस कीमती जमीन का गलत तरीके से विक्रय होने का मामला प्रकाश में आया है।जिसमें राजस्व विभाग के नियमों को दरकिनार कर जमीन का बैनामा किया गया है।जानकारी के मुताबिक नगर के मोहल्ला चौधराना के रहने वाले फैजुल अजीम पुत्र अब्दुल काफी, नाहिद खान पुत्र मोहम्मद तारिक, अब्दुल्ला खान, जैनब पुत्री नाहिद खान निवासी चौधराना सलोन की जमीन गाटा संख्या 2130 -(क) क्षेत्रफल 0.007 नगर के सलोन प्रतापगढ़ मुख्य मार्ग पर स्थित है।जिसमें सहखातेदार अब्दुल्ला और जैनब पुत्री नाहिद खान नाबालिक के रूप में दर्ज है।इसी जमीन से लगी हुई सरकारी जमीन गाटा संख्या 2130-ख क्षेत्रफल 0.028 बंजर और 0.076 क्षेत्रफल सरकारी अभिलेखों में कब्रिस्तान दर्ज है।जिसमें गाटा संख्या 2130- क के भू स्वामियों ने अपनी जमीन के कुल क्षेत्रफल लगभग सात फिट के अतिरिक्त 40 फिट का बैनामा क्रेता ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि संतोष सिंह कुशवाहा निवासी भोला खेड़ा, कृष्णा नगर मानस नगर लखनऊ व दो अन्य लोगों को बेंच दी।जब की विक्रय की गई 33 फिट जमीन गाटा संख्या 2130-ख में सरकारी जमीन बंजर व कब्रिस्तान दर्ज है।यही नहीं विक्रय की गई जमीन के सह खातेदार विक्रेता अब्दुल्ला और जैनब पुत्री नाहिद खान अभी नाबालिक है।राजस्व नियमों के मुताबिक नाबालिक को जमीन क्रय विक्रय करने का अधिकार नही है।परंतु बावजूद इसके निबंधन कार्यालय के अधिकारियों ने नाबालिकों के नाम दर्ज जमीन का बैनामा कर दिया। तहसीलदार प्रज्ञा द्विवेदी ने बताया की विक्रेता द्वारा क्षेत्रफल से अधिक जमीन बेचने की जानकारी मिली है।जिसमें नायब तहसीलदार को मौके पर भेज कर जमीन की पैमाईश कराई गई है।सरकारी जमीनों में अगर छेड़छाड़ की गयी तो सख्त कार्यवाही की जायेगी।और नाबालिक द्वारा जमीन को बेचने की स्थिति में विक्रेता द्वारा अपर जिला जज से बेचने का आदेश लेना पड़ता है।कोई भी नाबालिक जमीन का क्रय विक्रय नही कर सकता है।अगर ऐसी कोई जमीन की बिक्री हुई है तो उसकी जांच करा कर कार्यवाही की जायेगी।

अनुज मौर्य/आशीष कुमार रिपोर्ट

Previous articleजमीनी की रंजिश बनी मौत की वजह, पीट-पीटकर अधेड़ की करी हत्या
Next articleअज्ञात कारणों से घर में लगी आग, लाखों की संपत्ति जलकर हुई खाक