प्रसव के दौरान प्रसूता की मौत, डीएम-एसपी से न्याय की मांग

314

रायबरेली। जिले में प्राइवेट अस्पतालों का मकड़जाल फैला हुआ है। आये दिन कोई न कोई अस्पताल अखबार की सुर्खियों में बना रहता है। राधाकृष्णा नर्सिंग होम के एक ताजा प्रकरण में महिला की प्रसव के दौरान मौत हो गई, जिसको लेकर परिजनों ने पुलिस अधीक्षक व जिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर पूरे मामले से अवगत कराते हुए नर्सिंग होम संचालक पर कड़ी कार्यवाही की मांग की गई है। पीड़ित विजय कुमार चैरसिया पुत्र राधे निवासी ग्राम जिसठा पोस्ट बद्दवां थाना महेशगंज प्रतापगढ़ ने बताया कि उसने अपनी पत्नी सन्नो की डिलीवरी कराने के लिए शहर के राधाकृष्णा नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया था। डिलीवरी के लिए डाॅक्टर द्वारा 20 हजार रुपए जमा कराए गए कि बड़ा आॅपरेशन करना है। परिजनों ने मजबूरी में व्यवस्था कर 20 हजार रुपए जमा कर दिया। तीसरे दिन आॅपरेशन किया गया जिसके दौरान सन्नो को पुत्री हुई। परिजनों का आरोप है उक्त महिला चिकित्सक द्वारा आॅपरेशन के दौरान लापरवाही बरतने के कारण पत्नी की हालत अत्यंत गंभीर हो गई। गंभीर हालत देख चिकित्सक ने कहा कि और पैसा जमा करो खून की कमी है, खून चढ़ाना पड़ेगा। पीड़ित ने खून की व्यवस्था की परन्तु महिला की हालत और गंभीर हो गई। इस पर चिकित्सक ने कहा कि इन्हें लखनऊ ले जाओ। परिजन चिकित्सक द्वारा बताये गए अस्पताल ले गए लेकिन ज्यादा देर होने के कारण प्रसूता की जांच नहीं बच सकी। मृतक महिला के परिजनों ने पुलिस अधीक्षक व जिलाधिकारी से उक्त मामले को संज्ञान में लेते हुए न्याय दिलाने की मांग की है।

Previous articleराष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माणाधीन कार्य को जल्द करें पूरा: डीएम
Next articleफेसबुक पर अभद्र टिप्पणी करने वाले गिरफ्तार