सदर एसडीएम के खिलाफ युवक बैठा धरने पर,दी आत्महत्या की धमकी

30

जमीनी विवाद को लेकर तहसील प्रशासन से आहत युवक बैठा धरने पर

रायबरेली: रायबरेली सदर तहसील में एसडीएम कार्यालय के सामने दो युवक धरने पर बैठ गए और न्याय मांगने लगे। न्याय न मिलने की स्थिति में आत्महत्या करने की धमकी भी प्रशासन को दी। बताया जा रहा है कि युवकों का एक जमीनी विवाद एसडीएम की कोर्ट में पेंडिंग चल रहा था। इसी बीच दूसरा पक्ष उस जमीन पर निर्माण कार्य करने लगा। इसके बाद यह लोग अचानक एसडीएम ऑफिस के सामने पहुंच गए।

सदर तहसील क्षेत्र के भदोखर थाना के गांव पूरे असेरी सैदनगर के रहने वाले अमित कुमार ने बताया कि उसकी जमीन का मामला एसडीम की कोर्ट में पेंडिंग है। जिसमें विपक्षी लोग देवेंद्र, रविंद्र कब्जा कर रहे हैं । जबकि सरकारी बंटवारा भी नहीं हुआ है। भदोखर कोतवाल व एसडीएम पैसा खाकर के वहां जबरन काम करवा रहे हैं। वहां प्रशासन से दबाव डाला जा रहा है कि थाने जाइए। यदि हम थाने या मौके पर गए तो हमें आशंका है कि हमारी हत्या हो सकती है। इसलिये आज एसडीएम मिथिलेश कुमार त्रिपाठी के ऑफिस के सामने धरने पर बैठे हैं। पीड़ित ने बताया कि सोमवार से हम रोजाना यहां चक्कर काट रहे हैं। लेकिन हमारी कोई सुनवाई नहीं हो रही है।।
उसे आश्वासन दिया जाता है कि वहां काम नहीं होगा लेकिन काम बराबर वहां चल रहा है। काम में कोई रुकावट नहीं आ रही है। यदि हमारी मांग न मानी गई तो हम आत्मदाह कर लेंगे। इसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।

वहीं इस मामले में एसडीएम मिथिलेश कुमार त्रिपाठी ने कहा कि इस मामले में यह पीड़ित जो बैठा है यही गलत है। मामला जरूर न्यायालय में है लेकिन दूसरा पक्ष इसका हकदार है। एसडीएम के द्वारा दिए गए इस जवाब से लगता है कि एसडीम जल्दबाजी में कोई फैसला कर रहे हैं क्योंकि मामला जब कोर्ट में है तो इसका फैसला कर देना चाहिए ना कि उसे पेंडिंग रखकर दूसरे पक्ष को निर्माण कार्य की स्वीकृति देनी चाहिए। एसडीएम ने कहा कि जमीन पर कोई स्टे नहीं लगा हुआ है।

अनुज मौर्य एडवोकेट मनीष श्रीवास्तव रिपोर्ट

Previous articleबीडीओ आफिस में जर्जर भवन की तोड़फोड़ कर रहे तीन मजदूरों पर गिरी छत ,हालत गम्भीर
Next articleयुवती को युवति से हुआ ऐसा प्यार, शादी करने के लिए भगा लाई लुधियाना से