“हर घर सफाई कर, गीला सूखा अलग कर” अभियान की लखनऊ से शुरुआत

84

सोसाइटी फॉर इको एनर्जी एंड ससटैनिबिलिटी के द्वारा इंडियन ऑयल और ऑयल इंडिया के तत्वधान में रूरल अर्बन मास अवेयरनेस कैम्पेन की शुरुआत लखनऊ में की गई. इस कैम्पेन का मकसद लोगों को जागरूक करना है कि गीले और सूखे कूड़े को अलग अलग रखे जिससे कि कूड़े का निस्तारण तेजी से किया जा सके. इस दौरान “हर घर सफाई कर, गीला सूखा अलग कर” का नारा दिया गया.

कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलन के साथ हुई. इस भारतीय सेना के सेवानिवृत्त जवानों को सम्मानित करने के साथ ही उनको इस मुहिम से भी जोड़ा गया.सेवानिवृत सैन्यकर्मियों की संस्था आई. ई. एस. एल. लखनऊ मंडल सदस्य भी कार्यक्रम में उपस्थित रहे. कार्यक्रम के दौरान सोसाइटी फॉर इको एनर्जी एंड ससटैनिबिलिटी संस्था के चेयरपर्सन दीपक पांडे ने इस अभियान के उद्देश्य और जरूरत के बारे बताते हुए कहा कि जब हम स्वस्थ रहेंगे तभी अपने समाज और देश को तरक्की की तरफ ले जा सकेंगे।

समाजसेवक अभषेक पांडे ‘रिशु’ ने कहा कि देश की तरक्की के लिए एक स्वच्छ और साफ वातावरण बहुत ही जरूरी है. क्योंकि जब स्वछता रहेगी तो समाज बीमारियों से दूर रहेगा. इस स्वछता अभियान में समाज के हर एक इंसान की सहभागिता जरूरी है. समाजसेवी पंकज ओझा ने लोगों से अपील की कि ज्यादा ज्यादा इस अभियान के लिए अपने आसपास के लोगों को जागरूक किया जाए जिससे कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वच्छ भारत का सपना पूरा किया जा सके।

देवेश वर्मा रिपोर्ट

Previous articleभौतिकता व दैवीय दर्शन होता है अध्यात्म में-स्वामी स्वात्मानंदसंत
Next articleआग लगने पर बचाव के लिए राइजिंग चाइल्ड स्कूल में लगाई गई कार्यशाला