भारतीय मज़दूर संघ रेलवे के निगमीकरण के खिलाफ 3 जनवरी 2020 को पूरे भारत में मनायेगा चेतावनी दिवस

22

रायबरेली (लालगंज)। क्षेत्र-भारतीय रेलवे मज़दूर संघ बीआरएमएस की 150वी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक विश्व संवाद केंद्र, लखनऊ में सम्पन्न हुई।

इस बैठक में में भारतीय रेलवे मज़दूर संघ बीआरएमेस के अध्यक्ष श्री एके सिंह व महामंत्री श्री अशोक शुक्ला जी , बीएमएस के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री एमपी सिंह, बीएमएस के संगठनमंत्री बी सुरेंद्रन, व पूर्व राष्ट्रीय अध्य्क्ष कैलाश नाथ शर्मा जी व पूरे भारतीय रेलवे के 17 जोनों व 7 प्रोडक्सन यूनिटों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

इस बैठक में रेलवे के निगमीकरण व प्राइवेटेशन का मुद्दा मुख्य रूप से छाया रहा। इस बैठक में तय किया गया कि अखिल भारतीय मज़दूर संघ के आह्वान पर पूरे भारत मे बीएमएस सभी जिलों में 3 जनवरी 2020 को धरना प्रदर्शन के साथ प्रधानमंत्री को डीएम के माध्यम से ज्ञापन सौंपकर चेतावनी दिवस के रूप में मनायेगा। बीएमएस की मुख्य मांगे रेलवे के निगमीकरण को तत्काल रोकना, रेलवे ट्रेनों को प्राइवेट हाथो में देने से रोकना, पुरानी पेंशन को बहाल करना, आउटसोर्स व ठेकेदारी को रोकना व रेलवे में खाली 3 लाख से ज्यादा पदों को तुरंत भरना आदि मांगे है।

इस मौके पर एमसीएफ रायबरेली से सुशील गुप्ता व आदर्श सिंह बघेल ने भाग लिया।

अनुज मौर्य/सन्दीप फ़िज़ा रिपोर्ट

Previous articleजब लावारिस बाइक की डिग्गी में मिला बम
Next articleकड़ाके की ठंड में खेत में पड़ी तड़प रही गाय, जिम्मेदार मौन